Display bannar

Breaking News

दीपोत्सव पर्व शरू होते ही गरीब बच्चों संग बांटी खुशियां


समाजसेवी संगीता भटनागर एवं जितेंद्र चौहान बच्चो को दिवाली की सामग्री वितरित करते हुए|
आगरा : कहते हैं खुशियो पर सभी का हक होता है। खुशियां अमीरी गरीबी नहीं देखती हैं। कुछ लोग दूसरों को खुशियां देकर खुद होते हैं। कुछ इसी अंदाज में दीपोत्सव पर्व का आगाज होने पूर्व ही शहर के बिग पेजेस फाउंडेशन एवं लेक्सिस टेली प्रोसेज प्रा0 लि0(बीपीओ) के सयुक्त तत्वाधान मे हर वर्ष की तरह इस दिवाली पर समाजसेवियों ने समाज के अंतिम पायदान पर बैठे बच्चों के बीच दीवाली की खुशियां मनाई। बच्चों को उपहार दिए और उपहार पाकर बच्चों के चेहरे खिल उठे। ये वो बच्चे थे जो कभी सड़कों पर भीख मांगते थे लेकिन आज जब उनके हाथों ने कलम थामी तो शहर भर का प्यार उन पर उमड़ पड़ा। लोग इन्हें देखकर नाक पर रूमाल रख लेते थे। जब इन बच्चों के बीच मुख्य अतिथि आकांक्षा समिति की अध्यक्ष संगीता भटनागर तथा विशिष्ट अतिथि प्रमुख समाजसेवी जितेन्द्र चौहान, मिक्की मधुकर अरोरा, नितिन कोहली अन्य समाजसेवियों के साथ दीवाली मनाने पहुंचे तो बच्चे बहुत खुश हुए। 
   
समाजसेवी नितिन कोहली एवं मिक्की मधुकर अरोरा बच्चो को मिठाई वितरित करते हुए| 
    सभी ने इन बच्चों को पटाखे, मिठाई तथा अन्य उपहार दिए और उपहार पाकर बच्चे बहुत खुश हुए। लेक्सिस टेली प्रोसेज प्रा0 लि0 के विश्वदीप सिंह राठौर, आयुष प्रताप सिंह व समस्त स्टाफ ने भी बच्चों के साथ पटाके चलाये। सभी बच्चे बेहद खुश नजर आए। सभी बच्चों ने कहा कि हम मन लगाकर पढ़ेंगे तथा बड़ा इंसान बनेंगे। समाजसेवियों ने इन बच्चों का रिपोर्ट कार्ड भी देखा। स्कूल के शिक्षकों ने बताया कि ये बच्चे बहुत लगन से पढ़ते हैं। जहां एक ओर बस्ती के बच्चे मिड-डे मील खाकर स्कूल से चले जाते हैं वहीं दूसरी ओर यह बच्चे छुट्टी होने तक कक्षा में रहते हैं। जब संगीता भटनागर ने बच्चों से पूछा कि बड़े होकर क्या बनना चाहते हो तो अधिकांश बच्चों ने पुलिस एवं फौजी बनकर देश की रक्षा करने बात कहीं वहीं लड़कियों ने नर्स बन सेवा करने की इच्छा जाहिर की। समाजसेवी जितेन्द्र चौहान ने कहा कि इन बच्चों के सपनों को पूरा करने में गरीबी आड़े नहीं आएगी। 
बच्चो को गिफ्ट देते कार्यकर्म में आये अतिथि 
     युवा समाजसेवी विमल कुमार ने कहा कि इन बच्चों को समाज दुत्कारने की बजाए इन्हें अपनेपन का अहसास कराना चाहिए। खुशियों पर सबका हक होता है। ये भले ही गरीब हैं लेकिन इनकों को भी समाज में बराबरी का हक मिलना चाहिए| झुग्गी-झोपड़ी के पढ़ने वाले बच्चो के साथ 92.7 बिग एफ़एम टीम भी इस सामाजिक दिवाली मे शामिल हुई आरजे साजिद ने बच्चो के साथ रेडियो उनके दिवाली मेसेज रिकॉर्ड किए और कुछ पल भी साथ बिताए | 
         गौरतलब है डीआईओएस कार्यालय के पीछे झुग्गियों में रहने वाले बच्चे एक साल पहले तहसील तथा एमजी रोड पर भीख मांगते थे। ये कई बार पुलिस द्वारा पकड़े भी गए लेकिन फिर से उसी धंधे में उतर आते थे। सामाजिक कार्यकर्ता नरेश पारस के अथक प्रयासों से इन बच्चों को मॉडर्न प्राइमरी स्कूल में दाखिला हो गया था। तब से बच्चे इसी स्कूल मे पढ़ रहे हैं। इससे पूर्व भी दीवाली पर इन बच्चों के साथ खुशियां बांटी गई थी। बिग पेजेस फाउंडेशन द्वारा आयोजित दिवाली मे  नरेश पारस, ओपी चौधरी, सरवन कुमार, संदीप किशोर, कुलदीप सिंह चाँदनी रधुवंशी एवं समस्त लेक्सिस टेली प्रोसेज प्रा0 लि0 परिवार के सदस्य प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

No comments