Display bannar

Breaking News

लोहड़ी पर ड्राक्टरों का लगेगा महाकुंभ तो मकरसंक्राति पर अभिनेत्री किरण खैर करेंगी कार्यशाला का शुभारंभ

  • 14 जनवरी को केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा करेंगे उद्घाटन
  • पतंग महोत्सव व त्रिची से आ रही छात्राओं के जरिए दिया जाएगा सेव गर्ल चाइल्ड का संदेश
  • कांफ्रेंस में 13 वर्कशॉप व 70 से अधिक रिसर्च पेपर देश विदेश के डॉक्टर प्रिजेन्ट करेंगे

आगरा : 13 जनवरी से ताज नगरी में शुरू होने जा रहे आईकोग यानि डॉक्टरों के महाकुम्भ का काउन-डाउन शुरू हो गया है। कार्यशाला में लगभग एक दर्जन देशों के (भारत के अलावा, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, चीन, श्रीलंका, अमेरिका, इंग्लैंड सहित) 6 हजार से अधिक डॉक्टर भाग लेंगे। 13 जनवरी को प्री कांग्रेस वर्कशाप में जहां महिलाओं से सम्बंधित जटिव बीमारियों पर 13 वर्कशाप होंगी वहीं इस दिन 60 महिलाओं के निशुल्क ऑपरेशन होंगे। 14-17 जनवरी को देश विदेश के डॉक्टरों द्वारा साइंटिफिक सेशन में 700 से अधिक रिसर्च पेपर प्रिजेन्ट किए जाएंगे।

कलाकृति में आयोजित प्रेस वार्ता में आर्गनाइजिंग कमेटी की सचिव डॉ. जयदीप मल्होत्रा ने बताया कि कार्यशाला का उद्घाटन 14 जनवरी को शाम पांच बजे केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा करेंगे। मकर संक्रांति के मौके पर 6 हजार से अधिक डॉक्टर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ से सम्बंधित स्लोगन लिखी पतंग उड़ाकर व त्रिची से रहा 72 छात्राओं का मशाल लेकर आ रहा दल सेव गर्ल चाइल्ड का संदेश देंगे। 13 जनवरी को वर्कशॉप में होने वाले सभी ऑपरेशन देश विदेश के जाने माने डॉक्टरों द्वारा हॉस्पीटल रवि हॉस्पीटल, सरकार नर्सिंग होम व कमलेश टंडन नर्सिंग होम में किए जाएंगे। प्रत्येक हॉस्पीटल में 13 जनवरी को 20-20 ऑपरेशन(कैंसर, रसोली, ट्यूब ब्लॉक, ओवरी की बीमारी, सर्वाइकल कैंसर आदि के) किए जाएंगे। ऑगर्नाइजिंग कमेटी के चेयरमैन डॉ. नरेन्द्र मल्होत्रा ने बताया कि एकजनवरी तक रजिस्ट्रेशन पूरे होने के बाद उनके परीक्षण आदि का काम शुरू किया जा चुका।

रेनबो हॉस्पीटल से टेस्ट तीन हॉस्पीटल में होने वाले 60 ऑपरेशन भी सीधे कार्यशाला स्थल पर टेलीकास्ट होंगे।रेवबो हॉस्पीटल से ट्यूब बेबी विधि का सीधा प्रसारण कार्यशाला स्थल पर किया जाएगा। ऑगर्नाइजंग कमेटी की साइंटिफिक चेयरपर्सनडॉ. सरोज सिंह ने बताया कि 13 जनवरी की वर्कशॉप में बिना चीरे के बच्चेदानी निकालने का ऑपरेशन सबसे खास होगा। जिसे सरकार नर्सिंग होम में एसएन मेडिकल कॉलेज के सहयोग से किया जाएगा। आर्गनाइजिंग कमेटी के चेयर रिसेप्शन कमेटी डॉ. अनुपम गुप्ता ने बताया कि कांफ्रेंस में महिलाओं के स्वास्थ के अलावा सामाजिक समस्याओं पर चर्चा होगी। इस अवसर पर ऑर्गनाइजर कमेटी के कोषाध्यक्ष डॉ. आरएन गोयल व ओसवाल ग्रुप के अशोक जैन भी मौजूद थे।

उद्घाटन व साइंटिफिक सेशन
-कार्यशाला का उद्घाटन केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, अभिनेत्री किरन खेर व केन्द्रीय मंत्री राम शंकर कठेरिया 14 जनवरी को शाम पांच बजे करेंगे।
-13 जनवरी को महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं पर 13 वर्कशॉप होंगी।इसके साथ ही 13 जनवरी को टंडन नर्सिंग होम, सरकार नर्सिंग होम व रवि नर्सिंग होम में विभिन्न बीमारियों से पीड़ित 60 महिलाओं का निशुल्क ऑपरेशन किए जाएंगे।
-कन्याकुमारी से दक्षिण भारत के विभन्न प्रांतों की 72 छात्राओं का दल सेव गर्ल चाइल्ड का संदेश देने के लिए त्रिचनापल्ली से मशाल के साथ 12 जनवरी को आगरा पहुंचेगा। 14 जनवरी को सुबह बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के संदेश के साथ छात्राएं मशाल को मुख्य अतिथि को सौपेंगी।
-बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की थीम पर संक्रांति (14 जनवरी को) के मौके पर दोपहर 12 बजे कलाकृति ग्राउंड में काइट फेस्टिवल का आयोजन किया गया है। विशेष रूप से बनवायी गई पतंग उड़ाकर 6 हजार से अधिक डॉक्टर संदेश देंगे।
-14, 15, 16 जनवरी को देश विदेश के डॉक्टर व पीजी स्टूडेंस 700 से अधिक रिसर्च पेपर प्रजेन्ट करेंगे।

मीना बजार भी सजेगा
मेडिकल ट्यूरिज्म के नजरिए से देखें तो काफ्रेंस में शामिल होने वाले दुनिया भर के 6 हजार से अधिक डॉक्टर और आगरा सहित भारत के विभिन्न प्रांतो के प्रोडक्ट से सजा मीना बाजार से मेडिकल ट्यूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा। इवेन्ट को-ऑडिर्नेटर राजेश सुराना के अनुसार पहली बार ओपन एरिया हे जा रही मेडिकल कांफ्रेंस से लगभग ढाई से तीन हजार लोगों को रोजगार मिला है। कैटरिंग से लेकर फोटोग्राफी तक सब के लिए आगरा शहर की सुविधाएं ली गई हैं।

No comments