Display bannar

Breaking News

महिला दिवस : खुशहाली के लिए परिवार और घर के बीच संतुलन बनाना जरूरी

खुशहाल और स्वस्थ्य जिन्दगी के लिए मन की इच्छाओं के दबाने के बजाए उसे जाहिर करें


आगरा : महिलाएं आज सब कुछ कर सकती है और ये साबित भी हुआ है| स्वस्थ और खुशहाल जिंदगी के लिए जरूरी है कि कामकाजी महिलाएं घर और अपने ऑफिस के बीच संतुलन बनाएं। भागदौड़ भरी जिन्दगी में हर रोज की दिनचर्या में थोड़ा सा मैनेजमेंट हमारी तमाम ऐसी छोटी-चोटी समस्याओं को दूर कर सकता है, जो हमें बहुत बड़ी लगती हैं। यह कहना था मनोवैज्ञानी चीनू अग्रवाल का। वह सिनर्जी प्लस हॉस्पीटल में महिला दिवस के उपलक्ष्य में कामकाजी महिलाओं के लिए आयोजित कार्यक्रम में बोल रही थीं। इस मौके पर डॉ. रणवीर सिंह त्यागी, डॉ. दीप्तिमाला अग्रवाल, डॉ. सुमन, डॉ. प्रीति सारस्वत आदि मौजूद रही|

इन बातों का रखें खयाल
  • सुबह कौन से कपड़े पहनने है और क्या खाना बनना है, इसका निश्चय रात में ही कर लें।
  • अगले दिन किए जाने वालों की लिस्ट बनाएं। दिन भर आपने जो काम किए उनमें सफलता के लिए रात को खुद को बधाई दें। ऐसी बातें आपका आत्मविस्वास बढ़ाएंगी।
  • किसी भी काम को टालों नहीं। यदि आप सही मैनेजमेंट के साथ सही समय पर काम करेंगी, तो लाफ में किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी।
  • अपने जीवन में ऐसे लोगों का शुक्रिया अदा करना न भूलें, जो हर कदम पर आपके साथ रहते हैं। वह चाहें मां हो या बहन या फिर पति। इस काम के लिए बहुत आत्मविश्वास चाहिए। क्योंकि लोग बुराई तो आसानी से कर देते हैं, लेकिन किसी की तारीफ करना आसान काम नहीं। इसके लिए बहुत हिममत चाहिए।
  • ऐसा करने से रिलेशनशिप स्ट्रोंग होती है, साथ ही आपको भी खुशी मिलेगी जिससे पॉजिटिव हार्मोन बनने है और आपको स्वस्थ रखने में मददगार होते हैं।
  • अपनी ईच्छाओं को मारे नहीं। जिस काम में आप खुद को सहज और खुश महसूस करती हैं, वह करें।




No comments