Display bannar

Breaking News

निष्कासित नेताओं ने सपा में वापसी के लिए माफी मांगी


FILE PHOTO

लखनउ : उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा के महत्वपूर्ण चुनाव से पहले सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी :सपा: में एकजुटता का संदेश देने के लिये रामगोपाल यादव की वापसी के बाद अब और निष्कासित नेताओं की वापसी के दरवाजे भी खुल गये हैं। प्रदेश में विधानसभा चुनाव में चंद महीने ही बाकी हैं। ऐसे में सपा अपने अंदर सबकुछ ठीक होने का संदेश देने की भरसक कोशिश कर रही है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कुछ करीबी मगर हाल में पार्टी से निकाले गये युवा नेताओं ने कल सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव से मुलाकात करके माफी मांगी है। उसके बाद अटकलें लगायी जा रही हैं कि उनकी पार्टी में जल्द वापसी हो सकती है।

सपा के सूत्रों के अनुसार पार्टी से निष्कासित विधान परिषद सदस्य सुनील साजन, आनन्द भदौरिया तथा संजय लाठर के साथ-साथ गौरव दुबे, दिग्विजय सिंह देव तथा बृजेश यादव ने मुलायम से मुलाकात करके उनसे माफी मांगी है।

सूत्रों के मुताबिक इन युवा नेताओं ने मुलायम से पार्टी की मजबूती के लिये काम करने की इजाजत मांगी है। सपा मुखिया ने भी उनकी इस गुजारिश पर गौर करने का आश्वासन दिया है। पिछले महीने सपा से निकाले गये वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव की पिछले दिनों में पार्टी वापसी के बाद बाकी निष्कासित नेताओं की वापसी की भी सम्भावना भी बढ़ गयी है।

सपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि पार्टी नेतृत्व में बातचीत जारी है और उम्मीद है कि युवा नेताओं को चेतावनी देकर एक बार फिर सपा में शामिल कर लिया जाएगा। मुलायम के करीबी राज्यसभा सदस्य बेनी प्रसाद वर्मा और रेवती रमण सिंह ने रामगोपाल तथा अन्य लोगों को पार्टी में दोबारा लाने के लिये काफी जद्दोजहद की थी।

जारी 

No comments