Display bannar

Breaking News

सबसे बड़ी अदालत : राष्ट्रीय लोक अदालत में 98,849 वादों का निस्तारण



आगरा : न्याय के महाकुम्भ राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन जिला सत्र एवं न्यायालय (दीवानी) में किया गया। जिला जज सरोज यादव ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण तथा दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। जिला जज ने प्रत्येक स्टाल पर जाकर वादकारियों तथा अधिकारियों से मुलाकात कर जानकारी ली। इस अवसर पर उपस्थित न्यायाधीश वादकारियों, अधिकारियों को राष्ट्रीय लोक अदालत के आयोजन पर हार्दिक बधाई देते हुये कहा कि पूरे उत्साह के साथ अच्छे से अच्छा कार्य करने का प्रयास करें और सभी तनाव मुक्त होकर अपने-अपने विवादों को सुलझाकर ही अपने घर जायें ताकि इस राष्ट्रीय पर्व का आयोजन सफल हो। 

राष्ट्रीय लोक अदालत में मोटर दुर्घटना प्रतिकर वाद के कुल 62 वाद निस्तारित किये गये जिसमें प्रतिकर धनराशि-1,85,67000/- रूपये दिलाई गयी। श्रम के 45 वाद, धारा 138 एनआईऐक्ट के 268 वाद, पारिवारिक, वैवाहिक मामले 153, व्यवहारिक वाद एवं बैंक वसूली वाद 1572, भूमि अध्याप्ति 415 वाद, मनोरंजन कर अधिनियम के अंतर्गत चालान, बांट तथा माप अधिनियम के अंतर्गत चालान, विकास प्राधिकरण के अंतर्गत चालान, धारा-446 दं.प्र.सं संबंधी प्रकरण, कराधान संबंधी प्रकरण, चकबंदी वाद, जलकर संबंधी प्रकरण, गृहकर संबंधी प्रकरण, रेलवे संबंधी प्रकरणों आदि 59,532 वादों का निस्तारण सुलह-समझौता के आधार पर किया गया। इस लोक अदालत में भारतीय संचार निगम लिमिटेड, आइडिया, रिलायन्स कम्युनिकेशन एवं विभिन्न बैंको के 660 वादों को प्रीलिटिगेशन के माध्यम से निस्तारण कराया गया जिसमें समझौता धनराशि 3,06,95,694/- रूपये (तीन करोड़ छः लाख पिच्चानवे हजार छः सौ चैरानवे रूपये) सम्मिलित है।  

लोक अदालत में मजिस्ट्रेट कोर्ट द्वारा कुल 4287 वादों का निस्तारण किया गया। इस आयोजन को सफल बनाने हेतु एडीजे कोर्ट, मजिस्ट्रेट कोर्ट में राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से वादों का निस्तारण किया गया। दीवानी न्यायालय से संबंधित विभिन्न न्यायालयों द्वारा कुल 1572 वादों का निस्तारण किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन दीवानी कचहरी, आगरा के अलावा तहसील स्तर पर भी किया गया जिसमें बड़े पैमाने पर उपर्युक्त वादों का निस्तारण किया गया। राजस्व विभाग के नोडल अधिकारी, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) राकेश कुमार मालपाणी द्वारा प्राप्त सूचना के अनुसार कलेक्ट्रेट एवं तहसील स्तर के न्यायालयों द्वारा कुल 64,280 वादों का निस्तारण किया गया है। 
           इस प्रकार जनपद आगरा में जिला मुख्यालय एवं तहसील स्तर पर कुल 98 हजार 8 सौ 49 वादों का निस्तारण राष्ट्रीय लोक अदालत में किया गया है। इस कार्यक्रम मे नोडल अधिकारी, अपर जिला जज पंकज कुमार सिंह, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, आगरा की प्रभारी सचिव कविता मिश्रा एवं समस्त न्यायिक अधिकारीगण, विभिन्न बैंक, मोबाइल कंपनियों के अधिकारी, प्रतिनिधि, वादकारीगण एवं कर्मचारीगण आदि उपस्थित थे।    



No comments