Display bannar

Breaking News

नील गगन को छू गयी पतंग महोत्सव की पतंगे



आगरा : वैसे तो दान धर्म करने वालो में मकर संक्रांति का विशेष महत्त्व है ही वही दूसरी मान्यता पतंग उड़ा कर इस पर्व को मनाता जाता है। मकर संक्रांति के पर्व पर शनिवार को यमुना किनारे एत्मद्दौला व्यू पॉइंट आगरा पर रिवर कनेक्ट अभियान के अंतर्गत द्वितीय यमुना पतंग महोत्सव 2017 का आयोजन किया गया जिसमें शहरवासियों ने बड़े ही उत्साह से प्रतिभाग करते हुए यमुना के समीप मिलजुल कर मकर संक्रांति के पर्व को मनाया और रंग बिरंगी पतंगें उड़ाई |

ये शहर में दूसरा पतंग महोत्सव रहा जिसमे कि शहर में यमुना के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से इसका आयोजन किया गया | कार्यक्रम में प्रत्येक आयु वर्ग और धर्म के व्यक्तियों ने प्रतिभाग किया |यमुना बचाओ संदेश के साथ बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ, जल ही जीवन है जैसे संदेशों से सजी रंग बिरंगी पतंगों से आसमान भर गया |रिवर कनेक्ट अभियान से जुड़े ब्रज खंडेलवाल ने बताया कि लोगों को जागरूक करने के लिए निरंतर यमुना किनारे इस प्रकार के आयोजन किये गए  हैं । डॉ0 देवाशीष भट्टाचार्य ने बताया कि कार्यक्रम में पतंगों के माध्यम से अधिक से अधिक मतदान करने के लिए भी प्रेरित किया गया है | 

शैलेन्द्र नरवार ने बताया कि इस प्रकार के आयोजन त्योहारों के वास्तविक उद्देश्यों को पूरा करते हैं जब हम सभी अपने-अपने घरों से बाहर निकल कर एक स्थान पर एकत्र हो मिलजुल कर त्योहार मनाते हैं और आपसी प्रेम और भाईचारे को बढ़ते हैं | कार्यक्रम में विभिन्न पतंग प्रतियोगिताएँ भी आयोजित की गयीं | टीम गंगा व टीम यमुना के बीच पतंगबाजी की प्रतियोगिता भी हुई, जिसमें टीम गंगा विजेता रही वहीं टीम यमुना उप विजेता रही दोनों टीमों के कप्तान डॉ देवाशीष भट्टाचार्य और शैलेन्द्र नरवार को पुरस्कार से सम्मानित किया गया ध्रुव उपाध्याय श्रेष्ठ पतंगबाज रहे। 

ये रहे महोत्सव में मौजूद
रंजन शर्मा, संदीप उपाध्याय, नन्दन क्षोत्रिय, पद्मिनी ताजमहल, श्रवण कुमार, गंन्नो पांडेय, कामना लवनियाँ, शशिकांत उपाध्याय, निखिल गुप्ता,  नीरज अग्रवाल, चन्द्रवती नरवार, यशवन्त उपाध्याय, पीतम लोधी, शुभम सोनी, महेंद्र पाल सिंह, मोहन चौधरी, ब्रजेश सिंह, दीपक राजपूत , राहुल राज

No comments