Display bannar

Breaking News

ताज के बाद देश मे नंबर 1 बना गुरुद्वारा गुरू का ताल... जाने कैसे

खबर : बंटी ग्रोवर, आगरा 

आगरा : गुरुद्वारा में बड़ी गऊशाला है, जहां गायों की सेहत के साथ स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाता है। यहां गोबर की नियमित उठान के साथ बायोगैस प्लांट में उपयोग हो रहा है, तो वहीं बर्तनों की धुलाई का पानी एक टैंक में एकत्रित किया जाता है, जिसे खेती में उपयोग किया जाता है। इससे पानी का सीमित उपयोग के साथ भूमिगत जलस्तर भी प्रभावित नहीं होता। पत्रकारिता दिवस पर लखनऊ के गन्ना संस्थान में हुए समारोह में मुख्यमंत्री आदित्य नाथ योगी ने ऐतिहासिक गुरुद्वारा गुरू का ताल को स्वच्छता में प्रथम पुरस्कार से नवाजा। एक संस्थान द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में गुरुद्वारा गुरू का ताल के मुखी संत बाबा प्रीतम सिंह को मुख्यमंत्री योगी ने यह पुरस्कार प्रदान किया। 

धार्मिक परिसरों में स्वच्छता के सर्वे में एक संस्था के कार्यक्रम में गुरुद्वारा गुरू का ताल को प्रदेश में पहला पुरस्कार दिया गया। गुरुद्वारा गुरू का ताल के मीडिया प्रभारी गुरनाम सिंह और समन्वयक बंटी ग्रोवर ने बताया कि स्वच्छता के लिए परिसर में विशेष इंतजाम किये गए हैं। हजारों श्रृद्धालुओं को जागरूक करने के साथ गुरुद्वारा के सेवादार भी हमेशा सफाई में जुटे रहते हैं।

बता दें कि ऐतिहासिक गुरुद्वारा गुरू का ताल 35 एकड़ से ज्यादा क्षेत्र में फैला है। नेशनल हाइवे नंबर 2 के किनारे मुगलिया दौर के गुरुद्वारा गुरू का ताल में हर दिन दर्शन के लिए हजारों श्रृद्धालु आते हैं। यहां करीब 500 सेवादार हैं, जिनमें से 250 सुबह से रात तक कई पालियों में सफाई कार्य में लगे हुए हैं। 

No comments