Display bannar

Breaking News

ताजनगरी के इस गाँव मे आ गया ग्रामीणो को डसने वाला साँप.. जाने पूरा मामला


खबर : कामरान वारसी, आगरा

आगरा : जनपद के थाना मंसुखपुरा के अंतर्गत गांव तसोड चम्बल घाटी के बीहड़ में बने इस थाने में पुलिसकर्मियों को काले पानी की सजा के रूप में भेजा जाता है क्योंकि इस क्षेत्र के अधिकांशत मिट्टी काली, चिकनी और दोमट है। यह थाना जंगल के किनारे और राजस्थान की सीमा से सटा है। लोगों को ईलाज कराने के लिये 18 किलो मीटर की दौड़ लगाकर पिनाहट आना पड़ता है। 

मामला थाना मनसुखपुरा क्षेत्र के गाँव तासौड का है। तीन रोज़ पहले गंगा देवी पत्नी टेक चंद को सर्प ने छत पर सोते समय पैर में काट लिया था। परिवारीजन महिला को रात्रि में ही ईलाज के लिये वायगीरो के पास पैँतीखेडा ले गये । जहाँ महिला का अभी भी उपचार चल रहा है । उसके बाद इसी परिवार के हरीशंकर पुत्र आदिराम को शाम के समय सोने के लिये चारपाई ले जाते समय पैर में काट लिया। इसके बाद दूसरे दिन अशोक कुमार की पत्नी दुलो देवी को भूसा भरते समय लकड़ियों के ढेर में से पुत्र अनूप को खेत पर घास लेते समय सर्प ने काट लिया । परिवारीजन माँ और पुत्र को भी ईलाज के लिये वायगीरो के पास पैँतीखेडा ले गये। एक साथ एक दिन में परिवार के तीन सदस्यों को सर्प द्वारा काटे जाने की सूचना समूचे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। परिवार के मुखिया को भी सर्प द्वारा काटे जाने की सूचना से ग्रामीण दहशत में आ गये, उन्हें भी ईलाज के लिये मंगलवार रात्रि में ही पैँतीखेडा ले गये। उसे लेकर आज सुबह लोटे ही थे। आनन-फानन में ग्रामीणों ने अन्य लोगो का थाल बजाकर बुधवार को घर पर ही वायगीरो को बुलाकर सभी का ईलाज शुरू कराया और जो सर्प परिवार के सभी सदस्यों को एक के बाद एक काट रहा था उसका कारण जानने के लिये थाली भी बजाई गई । वहीं सर्प द्वारा तीन दिन में एक ही परिवार के छः लोगों को काटे जाने की घटना से सभी ग्रामीण सकते में हैं ।

वहीं ग्रामीणों ने वन विभाग से सर्प को पकड़ने की माँग की है। वहीं अजय कौशिक ने बताया कि एक ही परिवार के छः लोगों को सर्प द्वारा काटे जाने की सूचना से ग्रामीण दहशत में है। शाम होते ही सभी ग्रामीण मकानों की छत और चारपाईयो पर कैद होने को मजबूर हैं, फ़िलहाल गांव के लोगों में सांप के काटने की घटना से दहशत का माहौल है। गांव के लोग तरह तरह के टोन टोटके कर रहे है ताकि सांप काटने से वह महफूस रह सकें।


गांव में 5 दिन में करीब10 लोगों को सर्प काट गया है इसलिए सब गांव वाले डर हुए हैं । सभी गांव वाले इकट्ठे होकर रहते हैं । कभी कोई जाग रहा होता है तो कभी कोई सो रहा होता है । वजह नही पता चल रही कैसे काट रहा है।
रामू, गांव निवासी

गांव में आज से नहीं काफी दिनों से सर्प का प्रभाव बढ़ रहा है । यहां पर आस पास के क्षेत्र में करीब 20 लोगों को सर्प ने काट लिया है । इसके लिए यहां पर उपचार के लिए यहां पास में एक गांव है जहां पर देसी इलाज करते हैं । उससे काफी लोगो को आराम मिल रहा है । लेकिन चार लोगों की इस एरिया में मौत हो गई है । जिनके यहां पर इनके रिश्तेदार आते है वह यहां पर रुकते नहीं है।
पवन कौशिक, गांव निवासी

पूरे दिन ऐसा लगता है इधर से आया है उधर से आया। सांप किधर से आया उधर से आया । पूरे दिन डर सा लगता है मुझे और पूरे गांव को।  घर पर जाते हूँ तब यह लगता है कि आया सामने से आया या पीछे से आया । दिखाई नहीं देता है । पहले भी मेरे यहां पर  गांठे हुई थी।  गांव में बाई ने इलाज किया था।  गांव वाले यह कहते हैं कि पहले जन्म का पति है इसका ।पर ये दिखता नहीं है। 
गंगा, गांव निवासी

No comments