Display bannar

Breaking News

कल से 1800 आंचलिक व स्थानीय कलाकारो के साथ शुरू होगा 27वां ताज महोत्सव


आगरा : देश-विदेश में अपनी खासी पहचान बना चुका दस दिवसीय ताज महोत्सव कल से शहर में शुरू हो रहा है। उद्घाटन व मुख्य कार्यक्रम ताजमहल के निकट स्थित शल्पग्रिाम में होंगे। इस 27वें महोत्सव के दौरान शहर के प्रमुख स्थलों पर भी सांस्कृतिक कार्यक्रमों व रोमांचकारी गतिविधियों का आयोजन होगा। महोत्सव का उद्घाटन रविवार की सायं साढ़े पांच बजे केंद्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष सांसद रामशंकर कठेरिया करेंगे। यह जानकारी महोत्सव समिति के अध्यक्ष मंडलायुक्त के. राममोहन राव ने आज सुबह शल्पग्रिाम में पत्रकार वार्ता करते हुए दी। 

रोजाना होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम
उन्होंने बताया कि महोत्सव के दौरान देश के प्रमुख राज्यों के करीब साढ़े तीन सौ शल्पिी अपनी शल्पिकला का प्रदर्शन करेंगे। महोत्सव में लगभग 1800 आंचलिक व स्थानीय कलाकारों द्वारा अपनी प्रस्तुतियां दी जाएंगी। आयोजनों के संचालन के लिए 35 एंकरों की व्यवस्था की गई है। शल्पग्रिाम के मुख्य मंच पर रोजाना ही देश के नामी कलाकारों द्वारा प्रस्तुतियां दी जाएंगी। शुक्रवार व शनिवार को मुशायरा व कवि सम्मेलन भी होंगे। उन्होंने बताया कि पांच वर्ष तक के बच्चों और विदेशी पर्यटकों का महोत्सव में प्रवेश नि:शुल्क रहेगा। यातायात नियंत्रण व सुरक्षा के भी कड़े इंतजाम किये जा रहे हैं। पुलिस विभाग ने महोत्सव में कई डीएफएमडी सुरक्षा द्वार लगाये हैं। चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात रहेगी। सादा वर्दी में भी जवान तैनात रहेंगे।

स्टॉलों पर होंगे आकर्षण
मंडलायुक्त ने बताया कि इस बार महोत्सव में केंद्रीय हथकरघा विभाग के 53 शल्पिी भाग ले रहे हैं। इनमें महाराष्ट्र से एक, दल्लिी से आठ, पंजाब से तीन, उत्तर प्रदेश से 16, राजस्थान से तीन, बिहार से दस, आंध्र प्रदेश से एक, छत्तीसगढ़ व जम्मू-कश्मीर से तीन-तीन, पश्चिम बंगाल से सात, मध्यप्रदेश से दो, हिमाचल प्रदेश से एक शल्पिी शामिल हैं। इसके अलावा जूट काउंसिल से 16, जिला उद्योग केंद्र से 30 और आयोजन समिति की ओर से 175 शल्पियिों को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि महोत्सव का उद्देश्य देश की संस्कृति, शल्पिकला व व्यंजन के संयुक्त माध्यम से पर्यटन को बढ़ावा देना और देश भर के शल्पियिों को प्रोत्साहित करना है। इस बार महोत्सव की थीम धरोहर रखी गई है।

आयोजनों के संचालन के लिए 35 एंकरों की व्यवस्था
मंडलायुक्त ने बताया कि इस बार शिल्पग्राम में आने वाले सैलानियों को देश की विविधता के दर्शन होंगे। इनमें सहारनपुर का वुड क्राफ्ट, कश्मीर के सूट्स, गुड़गांव का टेराकोटा, बंगाल की कांधा साड़ी, वाराणसी की सल्कि साड़ी, बिहार के सल्कि वस्त्र, भदोही के कारपेट, लखनऊ के चिकन परिधान, आंध्र के कोशिया व सल्कि परिधान, खुर्जा की क्रॉकरी, सम्भल का बोनक्राफ्ट, प्रतापगढ़ के आंवला उत्पाद, असम का केन फर्नीचर, गुजरात के शॉल, पिलखुआ की चादरें, पंजाब की फुलकारी शामिल हैं। इसके अलावा खान-पान के शौकीनों के लिये विविध व्यंजन उपलब्ध रहेंगे। इसके अलावा फन फेयर व झूलों की भी व्यवस्था की गई है।

यहां भी होंगे ताज महोत्सव के कार्यक्रम 
शिल्पग्राम के अलावा सूरसदन प्रेक्षागृह, सदर बाजार मंच, आगरा कालेज खेल मैदान, पालीवाल पार्क, सदर लाइब्रेरी, अशोका कॉसमास मॉल व ग्यारह सीढ़ी मैदान पर ताज महोत्सव के रंग दिखेंगे। इनमें लोक नृत्य, वादन, गाय, नाट्य प्रस्तुतियों के साथ ही घुड़ सवारी व पैरा मोटर्स के रोमांच का भी लुत्फ लिया जा सकेगा। 

पुलिस रहेगी मुस्तैद 
सादा कपड़ों में महिला पुलिस भी तैनात रहेगी| प्रेस वार्ता के दौरान उपस्थित एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि महोत्सव के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहेंगे। लड़कियों से छेड़छाड़ जैसे मामलों को रोकने के लिये महोत्सव स्थलों पर सादा वर्दी में महिला पुलिस भी तैनात रहेगी। यातायात नियंत्रण के लिये अतिरक्ति जवानों की तैनाती की जा रही है।



No comments