Display bannar

Breaking News

संत राजिन्दर सिंह के सत्संग का हुआ समापन



आगरा : सावन कृपाल रूहानी मिशन के दूसरे दिन गुरुवार को पूजनीय माता रीटा ने संत नामदेव महाराज की वाणी से ”भाई रे इन नैनन हरि पेखो“ शब्द का गायन कर उपस्थित जनसमूह को मंत्रमुग्ध कर दिया| इस जीवन का देह पिता-परमेशवर को पाना हैं और पिता-परमेश्वर कहीं बाहर नहीं हम सबके भीतर हैं। अगर हम परम सुख को पाना चाहते हैं तो हमें अपने ध्यान को बाहर से हटाकर अंतर्मुख करना होगा। ध्यान-अभ्यास की इस कला को सीखने के लिए हमें किसी वक्त के पूर्ण महापुरुष की शरण में पहुंचें और उनसे नामदान की अनमोल दात लेकर अपने मनुष्य जन्म को सफल करें और 84 लाख जियाजून से इसी जन्म में छुटकारा पाएं।  

आज शाम को यहाँ पर संत राजिन्दर सिंह महाराज ने आध्यात्मिक दीक्षा देकर अनेकों लोगों को प्रभु की ‘ज्योति’ व ‘श्रुति’का निजानुभव प्रदान किया। सत्संग को सुनने के लिए सिर्फ आगरा से ही नहीं बल्कि भारत के विभिन्न राज्यों से हजारों की संख्या में आए लोगों के अलावा विदेशी भी उपस्थित थे।

No comments