Display bannar

Breaking News

उड़न खटोले मे ले गया पिंकी को उसका राजकुमार, गाँव मे लगा देखने वालों का हुजूम


आगरा : कहानियों में भी राजकुमार उड़ने वाले घोड़े पर सवार होकर राजकुमारी को ब्याहने के लिए जाता था, लेकिन अब ये कहानियां हकीकत में बदलने लगी हैं। अब दूल्‍हे कहानियों की तरह उड़नखटोलों में आने लगे हैं। आगरा में एक दूल्हा अपनी दुल्हन को हेलीकॉप्टर से विदा करा कर ले गया। दूल्हे के अनुसार उसके ससुर की इच्छा थी कि उनकी इकलौती बेटी उड़न खटोले में विदा हो।

बता दें कि एक तरफ जहां कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन जुडो अपनी लव लाइफ पत्नी और बच्‍चों के साथ ताज का दीदार करने आए थे तो उसी समय वहां से थोड़ी दूर होटल जेपी पैलेस के हेलीपैड पर एक शिक्षक दुल्हन अपने इंजीनियर पति के साथ हेलीकॉप्टर से विदा हो रही थी। अनोखी विदाई का नजारा देखने के लिए गांव वालों की जबरदस्त भीड़ लगी हुई थी।

मूल रूप से बाह तहसील के रहने वाले देवी राम शर्मा काफी समय से गुजरात के गांधी नगर में रहकर सागर फ़ोटो स्टूडियो चलाते हैं। इनकी बेटी पिंकी शर्मा गांधीनगर में एमफिल की पढ़ाई के बाद इंग्लिश की लेक्चरर है। देवी राम शर्मा ने अपनी बेटी की शादी आगरा के थाना मलपुरा के जारुआ कटरा निवासी के बेटे सत्येंद्र दुबे के साथ तय की। सत्येंद्र इस समय रांची में एचटीसीएल कम्पनी में इंजीनियर के पद पर काम कर रहे हैं।

देवी राम की दिली इच्छा थी कि उनकी इकलौती बेटी पिंकी की विदाई हेलीकॉप्टर पर हो ताकि पूरा गांव देखे। देवी राम का पूरा खानदान आगरा में ही है, इसलिए उन्होंने शनिवार रात यहां फतेहाबाद रोड पर एक बड़े मैरिज होम से भव्‍य शादी की और फिर उनकी इच्छा पूरी करने को आज सुबह उनका इंजीनियर दामाद सत्येंद्र अपनी दुल्‍हन को कार से विदा करा कर जेपी होटल के हेलीपैड पहुंचा और फिर वहां से उड़नखटोले (हेलीकॉप्टर) पर बिठा कर अपने गांव जारुआ कटरा ले गया।

पिंकी के मुताबिक शादी के बाद अब वो पति के साथ रांची में ही रहेंगी और वही जॉब करेंगी। बेटी की अनोखी विदाई का सपना पूरा होने के बाद से अभी तक देवीराम फूले नहीं समा रहे हैं। लोग इस समय बस अनोखी विदाई की ही चर्चा कर रहे हैं।

No comments