Display bannar

Breaking News

धर्मगुरुओ ने दिया शहर मे प्रेम का संदेश... जानिए किसने क्या कहा


आगरा : सुलहकुल की नगरी के सदभाव को कायम रखने के लिए एवं दोषी लोगो को कानून हाथ में लेने के लिए एवं दोषियों को कठोर दंड देने के लिए एक विनती बुधवार को भगवान गौतम बुद्ध के पवित्र स्थान बौद्ध विहार से धार्मिक गुरुओ एवं सामाजिक लोगो ने सयुक्त रूप से की । जिसमे शहर के जागरूक नागरिक भी शामिल हुए है और उन्होने भविष्य मे ऐसी पुनरावर्ती न हो उस पर भी परिचर्चा की|  

भंते ज्ञान रत्न ने कहा की एससी और एसटी के संशोधन को लेकर लोगो में बहुत बेचैनी थी की दलितों के सभी अधिकार ख़त्म कर दिए । उसी के लिए दलितों ने शान्तिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन यह उपद्रव कैसे हो गया । आगरा की जनता से अपील की कि वह शान्ति बनाये रखे| महंत योगेश पूरी ने कहा की आंदोलन ठीक चला लेकिन उसको किन्ही लोगो को छला गया उसी का यह विहंगम रूप बना। नगर के सभी लोगो को मिल जुल कर रहना चाहिए ।

मौलाना उजैर आलम नायव शहर क़ाज़ी ने कहा की हम किसी भी महजब से जुड़े है लेकिन हम सब एक है । हमारे शहर में शान्ति बनी रहे यह हम सब का फर्ज है और प्रशासन की भी जिम्मेदारी है की किसी निर्दोष को सजा नहीं मिले। फादर सुरेश दयाल ने कहा की इंसान के पास सब एक सी चीज है । ईस्वर ने किसी को अलग से नहीं दिया है । कुछ लोग है जो फिजा को ख़राब करना चाहते है मैंने देखा की एक विदेशी बस को नुकसान पहुंचा रहे थे वह विदेशी देश की क्या छवि लेकर गए होंगे ।

ये रहे मौजूद 
रविन्द्र पाल सिंह, करतार सिंह भारतीय, वत्सला प्रभाकर, बन्टी ग्रोवर, राम गोपाल, धर्मप्रकाश भारतीय, स्याम जरारी, नहर सिंह, बबलू अर्शी, पूरन सिंह, समी अघाई, देवकी नंदन सोन, बंगाली बाबू आदि 

No comments