Display bannar

Breaking News

ताजमहल में तीन घंटे से ज्यादा रुके तो कराना पड़ेगा 'रीचार्ज... जाने


आगरा : ताजमहल में प्रवेश के लिए टर्न स्टाइल गेट व्यवस्था शुरू हो गई है। फिलहाल, टिकट स्कैन कर पर्यटकों को प्रवेश दिया जा रहा है। जल्द ही मैग्नेटिक कॉइन (सिक्का) से ताज में प्रवेश मिल सकेगा। कॉइन से प्रवेश करने पर पर्यटक को ताजमहल के भीतर तीन घंटे ही रुकने दिया जाएगा। अगर पर्यटक को तीन घंटे के बाद भी ताज में रुकना है तो उसे कॉइन को रीचार्ज कराना होगा। इसके लिए ताज के परिसर में रॉयल गेट पर काउंटर लगेंगे। ताजमहल पर भीड़ नियंत्रण के लिए टर्न स्टाइल गेट बनाए गए हैं। अब इन्हीं गेटों से ताजमहल में प्रवेश दिया जा रहा है। एएसआई अधिकारियों का कहना है कि कॉइन सिस्टम लागू करने से पहले कुछ बदलाव किए जा रहे हैं। इसके बाद से ही कॉइन दिए जाएंगे। कॉइन के लिए टर्न स्टाइल गेट पर बॉक्स लगाए गए हैं। 

अलग-अलग रंग के सिक्के 
विदेशी पर्यटकों को नीला सिक्का, भारतीयों को ग्रे और सार्क देशों के पर्यटकों को पीला सिक्का दिया जाएगा। पांच साल तक के बच्चों का जीरो वैल्यू का टिकट जारी रहेगा। उधर, इस सिस्टम के लागू होने के बाद एएसआई और सीआईएसएफ के कर्मचारियों की ड्यूटी पॉइंट भी बढ़ गए हैं। 

गुंबद पर जाने का टिकट 200 रुपये 
ताजमहल के गुंबद पर जाने के लिए पर्यटकों को 200 रुपये का टिकट परिसर के अंदर काउंटर पर भी दिया जा रहा है। पर्यटक टिकट खिड़की से भी मुख्य मकबरे या गुंबद का टिकट ले सकते हैं। रविवार, सोमवार को पर्यटकों के टिकट का बार कोड चेक करके टर्न स्टाइल गेट से ताजमहल में प्रवेश दिया गया। इसमें महज एक मिनट का समय लग रहा था। यह प्रयोग सफल रहा है। पर्यटकों को लंबी लाइन में नहीं लगना पड़ा। हालांकि, पर्यटन उद्योग से जुड़े विशेषज्ञों का कहना है कि ताजमहल पर यह नई व्यवस्था अभी तो ठीक दिख रही है। असली परीक्षा पर्यटन सीजन यानी अक्टूबर से होगी। 

No comments